राजस्थान में टिड्डियों का आतंक, 20 जिलों में 90,000 हेक्टेयर में फसलों को नुकसान

Tiddiyaan.png
  • 90 हजार हेक्टेयर में फसलों को टिड्डियों ने पहुंचाया नुकसान
  • श्रीगंगानगर में करीब 4,000 हेक्टेयर में फसलों को नुकसान

राजस्थान के 20 जिलों में लगभग 90 हजार हेक्टेयर में फसलों को टिड्डियों ने नुकसान पहुंचाया है. राज्य के एक अधिकारी ने गुरुवार को इसकी जानकारी दी. राज्य के एक कृषि अधिकारी के अनुसार श्री गंगानगर, नागौर, जयपुर, दौसा, करौली और स्वाई माधोपुर से टिड्डियों के झुंड उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में पहुंच गए हैं. टिड्डियों को मारने के लिए केंद्र की टीम के साथ ही राज्य के कृषि विभाग के अधिकारी लगे हुए हैं.

राज्य के कृषि विभाग के आयुक्त ओम प्रकाश ने कहा कि टिड्डी हमले के कारण राज्य के 20 जिलों में लगभग 90,000 हेक्टेयर कृषि भूमि प्रभावित हुई है. श्रीगंगानगर में ही करीब 4,000 हेक्टेयर और नागौर में 100 हेक्टेयर में फसलों को नुकसान हुआ है. उन्होंने कहा कि विभाग ने 67,000 हेक्टेयर पर टिड्डी नियंत्रण अभियान चलाया है.

उन्होंने कहा कि टिड्डियों के झुंड 15-20 किमी प्रति घंटे की गति के साथ दिन में 150 किमी की यात्रा कर सकते हैं और खेतों में फसल नहीं होने के कारण, वे सब्जियों की फसल, पेड़ों और अन्य उपलब्ध वनस्पतियों को निशाना बना रहे हैं. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान से टिड्डियों का भारत आने का प्रमुख कारण वहां इस समय फसलों का नहीं होना है.

टिड्डी नियंत्रण कार्यों के बारे में बात करते हुए उन्होंने बताया कि टिड्डियों के हमले को बेअसर करने के लिए 800 ट्रैक्टरों का उपयोग किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि लगभग 200 टीमें दैनिक आधार पर सर्वेक्षण कर रहीं हैं तथा किसानों को मुफ्त कीटनाशक दिए जा रहे हैं. अधिकारी ने कहा कि टिड्डियों के झुंड हाल ही में जयपुर के कुछ आवासीय क्षेत्रों में प्रवेश कर गए थे और पेड़ों और मकानों पर हमला कर दिया था, जोकि कुछ घंटों के बाद, दौसा की ओर चले गए.

Share this post

PinIt

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    scroll to top